कुछ और भी तलाशें

Saturday, 16 August 2008

महिलाओं ने पोती, महिला के मुंह पर कालिख

स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर कांगडा जिले के पालमपुर थाना के गांव मट्ट में एक विवाहिता के मुंह पर कालिख पोत कर उसे गांव में घुमाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। महिला के साथ ऐसा सलूक करने वाले कोई और नहीं, गांव के महिला मंडल के ही सदस्य थे। कांगड़ा जिले में संभवत : यह इस प्रकार का पहला मामला है। पुलिस ने मामला भी दर्ज कर लिया है।

जागरण की ख़बर के मुताबिक उक्त गांव की विवाहिता बीना देवी पत्‍‌नी राजेश कुमार को यह सजा इसलिए मिली क्योंकि उसका गांव के ही एक अविवाहित युवक अजीत कुमार पुत्र मिलाप चंद के साथ उसका प्रेम प्रसंग बताया जा रहा है। इसी चक्कर में गांव से फरार होने व उसके बाद अजीत कुमार की लाश नगरोटा बगवां विधानसभा क्षेत्र के छू घेरा में मंगलवार रात को मिली थी। पालमपुर थाना के प्रभारी बदरी सिंह ने इस बात की पूष्टि करते हुए बताया कि पुलिस को इस मामले की सूचना मिलते ही पुलिस ने उक्त गांव में पहुंच कर स्थिति पर काबू पाया। उन्होंने बताया कि पुलिस गांव की 25 महिलाओं के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

2 comments:

mahashakti said...

इस दुनिया में महिला की सबसे बड़ी दुश्मन महिला ही है।

दिनेशराय द्विवेदी said...

शर्मनाक घटना है। लेकिन इस की जड़ें व्यवस्था की कमी में है, जो शीघ्र न्याय देने में अक्षम है और लोग संदेह के आधार पर सजा देने पर उतारू हो जाते हैं। इस घटना के पीछे की जाँच की जाए तो इस महिला मंडल को उकसाने में गांव के प्रमुख पुरुषों की भूमिका स्पष्ट दृष्टिगोचर होने लगेगी।